घर पर ही किचन गार्डन से ऑर्गनिक सब्जी उगाओ

किचन गार्डन क्यों जरूरी है: अच्छी सेहत के लिए पौष्टिक खाना बहुत जरूरी होता है। जैसे की हरी सब्जियां और खनिज तत्वों से भरपूर सब्जियां हमारे शरीर को तंदुरुस्त रखने में हमारी मदद करती हैं। 

मार्केट में आजकल हर तरह के फल और सब्जियां उपलब्ध होती हैं लेकिन हमें मालूम नहीं होता है कि वह ताजा है या काफी पुराने हैं। आज के समय में खेती-बाड़ी करने, सब्जियां उगाने में रासायनिक उर्वरकों का अंधाधुंध इस्तेमाल किया जाता है।  जिनका स्वास्थ्य पर बहुत बुरा असर पड़ता है जिसके बारे में मैंने पिछली पोस्ट Jaivik Kheti [जैविक खेती] में भी बात की थी। 

किचन गार्डन Kitchen Garden क्या होता है

अपने खाने पीने के लिए अगर आप अपने आंगन, घर या किसी भी खाली जगह में अपने उपयोग के लिए गार्डन बनाकर सब्जियां उगाते हैं तो उसे किचन गार्डन कहते हैं। ताजा फल और सब्जियों के लिए अगर आप घर में ही गार्डन बना सकते हैं और मौसमी व पसंदीदा सब्जियां उगा सकते हैं। जैसे कि आप मिर्च, पुदीना, टमाटर हरा धनिया, आदि लगा सकते हैं।

किचन गार्डन कैसे बनाएं और देखभाल करें

Kitchen Garden बनाना मुश्किल नहीं है लेकिन उसकी देखभाल करना थोड़ा सा मुश्किल हो सकता है तो मैं आपको इस पोस्ट में किचन गार्डन बनाने की कुछ टिप्स दूंगा जो आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होंगी साथ ही साथ आपको गार्डन तैयार करने के लिए सही सब्जी और फलों का चुनाव करने के लिए भी कुछ आवश्यक बातें इस पोस्ट में बताऊंगा।

किचन गार्डन में कोई भी रासायनिक उर्वरक का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए इसके स्थान पर आप वर्मीकंपोस्ट, ऑर्गेनिक उर्वरक इस्तेमाल कर सकते हैं। इसे आप को कैसे खरीदना होगा या कहां से आपको मिल सकता है यह भी आगे बताया गया है।

  • गार्डन बनाने के लिए सबसे पहले ऐसी जगह का चुनाव करना चाहिए जहां पर सूरज की रोशनी पहुंचती हो क्योंकि सूरज की रोशनी पौधे के विकास में सहायक होती है पौधों को रोज 5 से 6 घंटे सूरज की रोशनी मिलना बहुत जरूरी होता है इसलिए गार्डन ऐसी जगह पर ना बनाएं जहां पर पूरा दिन छांव रहती हो।
  • आपको यह भी ध्यान रखना है कि किचन गार्डन की मिट्टी में पानी की पर्याप्त मात्रा है पानी की कमी या अधिकता पौधों के लिए नुकसानदायक होती है।
  • मिट्टी में अगर कंकड़ पत्थर इस तरीके के तत्व हो तो उन्हें अलग कर ले और मिट्टी को बारी करके अच्छे से तैयार कर लें इसके बाद उसमें प्राकृतिक खाद मिलाएं।
  • जब आप बीज लगा देते हैं इसके बाद छोटे पौधों को बहुत ज्यादा पालन पोषण की आवश्यकता होती है आपको पौधे की उम्र के अनुसार ही पोषक तत्व देने होंगे।
  • गार्डन के पौधों को नियमित रूप से पानी भी खासकर जब पौधे छोटे होते हैं तो उन्हें पानी की बहुत जरूरत होती है क्योंकि उनकी इतनी ज्यादा जड़ी नहीं होती हैं ताकि वह पानी को संग्रहित कर सकें।

Buy Organic Soil Online ऑर्गेनिक खाद कहां से खरीदें?

जब हम ऑर्गेनिक खेती की बात करते हैं तो उसमें ऑर्गेनिक खाद लगाना बहुत जरूरी होता है क्योंकि हमें किसी भी तरीके से रासायनिक तत्वों के इस्तेमाल से बचना होता है। 

बहुत लोग घर पर ही छोटा सा गार्डन बनाना चाहते हैं कुछ फल फूल सब्जियां लगाते हैं लेकिन खासकर शहरों में पानी लगाने के लिए गमले के लिए Organic Soil ऑर्गेनिक मिट्टी  मिलना बहुत मुश्किल होता है।

अगर आपको भी पौधों के गमले के लिए ऑर्गेनिक मिट्टी की आवश्यकता है तो आप Vermi Compost Powder या Organic Fertilizer इस्तेमाल कर सकते हैं।

90 यह पौधों के लिए बहुत ज्यादा लाभदायक होता है क्योंकि इसे प्राकृतिक तरीके से कैंसर द्वारा बनाया जाता है। केंचुआ खाद या आर्गेनिक खाद के बारे में पिछली पोस्ट वर्मीकम्पोस्ट (केंचुआ खाद) क्या है? विधि, उपयोग व लाभ! में पढ़ सकते हैं।

वर्मी कंपोस्ट या ऑर्गेनिक खाद या Organic Soil आप अमेजॉन से भी खरीद सकते हैं।

Vermicompost /Organic Soil / आर्गेनिक खाद Buy Online

इसे Organic Fertilizer, Vermicompost / Kachua Khad, Soil Manure Fertilizer इत्यादि नामों से भी जाना जाता है। इसे आप फ्लिपकार्ट से भी खरीद सकते हैं। इन्हे आप Buy Online भी कर सकते हैं।

किचन गार्डन Organic Soil

निष्कर्ष

इस प्रकार आज हमने किचन गार्डन के बारे में जाना इसका क्या उपयोग होता है कैसे बनाते हैं किस प्रकार देखभाल करनी है और किचन गार्डन बनाने के लिए हमें ऑर्गेनिक खाद कैसे मिल सकता है तो उम्मीद करता हूं आज की यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी रही होगी अगर आपका कोई भी सवाल है तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

अगर आपको पोस्ट पसंद आई हो और उपयोगी लगी हो तो दूसरों के साथ शेयर जरूर करें, हमारे साथ जुड़े रहने के लिए धन्यवाद। 

Leave a Comment